बुधवार, 24 मार्च 2021

वीना आडवानी जी द्वारा अर्सा बीत गया पर कविता#

अर्सा बीत गया
कब आओगे
देश के संग-संग
मेरे प्रति भी एक
फर्ज़ कब निभाओगे।।

अपनी नवजात 
शिशु को कब प्रेम
संग सहलाओगे

अर्सा बीत गया 
कब तुम आओगे।।

मेरी अखियन को
कब तलक तुम यूं
ही बताओ तरसाओगे
पूछती हैं सखियां क्या
इस वर्ष भी सावन के 
झूलों पे ना झूल पाओगे।।

अर्सा बीत गया
कब तुम आओगे।।2।।

वीना आडवानी
नागपुर, महाराष्ट्र
*************

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें