शनिवार, 19 सितंबर 2020

शिक्षा#रचनाकार शिवशंकर लोध राजपूत जी द्वारा शानदार रचना#

*शिक्षा*
धन-दौलत,मकान,खेत, 
का बंटवारा कर सकते है!
मगर शिक्षा का बंटवारा, 
कोई नहीं कर सकता है !!
शिक्षा अवगुण से गुणवान बनाती, 
शिक्षा अंधकार से प्रकाश फैलाती!
शिक्षा निराशा में आशा की लौ जगाती
शिक्षा अज्ञान से सबको ज्ञानी बनाती!!
शिक्षा समाज में मान सम्मान दिलाती
शिक्षा उच्चे से उच्चे पद पर पहुँचती !
शिक्षा का प्रचार प्रसार खुद को, 
वह देश को सुदृढ़ विकासशील बनाती!

शिवशंकर लोध राजपूत 
व्हाट्सप्प नं. 7217618716

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें