मंगलवार, 8 सितंबर 2020

बदलाव लाएंगे #एल एस तोमर जी द्वारा शानदार रचना#

*बदलाव* 

                  *बदलाव लाएंगे* 

दीपक जलायेंगे।
क्रांति फैलायेंगे।
बदलाव लायेंगे।

                      
                  रूप नया सजाएंगे।
             हिंदी व्यास बनायेंगे।
                    बदलाव लायेंगे।


राग द्वेष दफनायेंगे।
दिए वचन निभायेंगे।
बदलाव लायेंगे।



            साहित्य धन ना चुरायेंगे।
            भ्रष्टाचार मिटायेंगे।
            बदलाव लायेंगे।


ज्ञान का परचम लहरायेंगे।
विश्व गुरु भारत बनायेंगे।
बदलाव लायेंगे।


           विज्ञान हिंदी में पढ़ायेंगे।
          अलख हिंदी का जगायेंगे।
                  बदलाव लायेंगे।


ज्योति अमित जलायेंगे।
चन्द्रगुप्त भास्कर गायेंगे।
बदलाव लायेंगे।



शशि सुमन माधव पुष्कर उगायेंगे।
तेजस्वी रजनी मुमताज वर्षा करा येंगे।
                बदलाव लायेंगे।



होगी जीत ,स्वाति भाट खिलखिलायेंगे।
बाबू राम सत्यम खैर एकता दिखा येंगे।
               बदलाव लायेंगे।


दत्त मधुबनी प्रपत्र विशाल गीता सुनायेंगे।
नेहा अभिषेक कृष्ण जीत जायेंगे।

             बदलाव लायेंगे।


ना झुकेगा ,ना कटेगा,सिर काट लायेंगे।
गलत करेंगे ना, गलत सह पायेंगे।
           बदलाव लायेंगे।
           नया भारत बनायेंगे।


हिंदी की क्रांति बदलाव।
इंसानियत की क्रांति बदलाव।
संयम और शांति की क्रांति बदलाव।
भ्रष्टाचार मिटाने की क्रांति बदलाव।

जय हिन्द

एल एस तोमर मुरादाबाद

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें