शुक्रवार, 2 अक्तूबर 2020

दो फूल#कुमारी चंदा देवी स्वर्णकार जी द्वारा#

2 अक्टूबर आज है 
2 अक्टूबर का दिन आज के दिन दो फूल खिले जिससे महका हिंदुस्तान एक ने दिए दिया सत्य अहिंसा का नारा तो दूसरे ने दिया जय जवान जय किसान
 सादा जीवन उच्च विचार
नाम था लाल बहादुर शास्त्री
करो या मरो का नारा दिया नाम था राष्ट्रपिता महात्मा गांधी

गरीबों के मसीहा मां का लाला लाल दुलारा
घर में पाया नाम नन्हे
छोटा कद उच्च व्यक्तित्व
 अपने मजबूत इरादों से
गंगा पार करके पाई शिक्षा
 पाक को हरा कर
मान बढ़ाया तिरंगा का
आजादी की लड़ाई के पुरोधा
 सच्चे सेवक गांधीवादी
 जय जवान जय किसान
 हरित क्रांति लाइव राष्ट्र में
देश के सच्चे सपूत
 शांति के अग्रदूत
 देश के कर्मवीर 
पाई स्वाध्याय से शास्त्री की उपाधि
ताशकंद में विश्व शांति के दूत बन
चिर स्थाई शांति अपनाई
कृतित्व ने आज भी बनाया अमर
बच्चों को सिखाया अनुशासन पाठ
ऐसे व्यक्तित्व लाल बहादुर शास्त्री जी को शत शत वंदन शत-शत नमन

- कुमारी चंदा देवी स्वर्णकार जबलपुर मध्य प्रदेश

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें