मंगलवार, 20 अक्तूबर 2020

कवि निर्मल जैन 'नीर' जी द्वारा 'नारी शक्ति' विषय पर रचना

बदलाव साहित्यिक मंच
साप्ताहिक प्रतियोगता
19 अक्टूबर 2020
*******************
    विषय-नारी शक्ति
*******************
नारी
होती महान
उसकी कोख से
जन्में सारे
भगवान
नारी
होती महान
उसके चरणों में
होता सारा
जहान
नारी
होती महान
उसकी महिमा गाते
सकल वेद
पुराण
नारी 
होती महान
उसकी रक्षा हित
करना सब
कुर्बान
नारी
होती महान
त्याग की मूरत
करो उनका
सम्मान
*******************
      निर्मल जैन 'नीर'
     ऋषभदेव/उदयपुर
        (राजस्थान)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें