मंगलवार, 20 अक्तूबर 2020

कवयित्री रश्मि मानसिंघानी जी द्वारा 'नारी शक्ति' विषय पर रचना

नमन बदलाव राष्ट्रीय ,अन्तरराष्ट्रीय मंच
साप्ताहिक प्रतियोगिता
विषय-नारीशक्ति /माँ दुर्गा
दिनांक:-19/10/2020
दिवस:-सोमवार
विधा:-काव्य
  
( मेरी शक्ति माँ दुर्गा)

 माँ शेरावाली, मेरी माँ दुर्गा रानी, 
 मां अम्बे रानी,  मेरी माँ  पहाड़ा वाली। 

 तेरे  रूपों की है  जय माँ, 
 तेरे भक्तों की है जय माँ, 
 तू सब की शक्ति है माँ। 

 माँ  शेरावाली,  मेरी माँ दुर्गा रानी, 
 माँ  लाटा वाली, मेरी माँ  वैष्णो रानी। 

 मैं लाल चुनरी चढ़ाऊं माँ, 
 तुझे हलवा पूरी खिलाऊं  माँ, 
 तेरा नाम जपती जाऊं माँ। 

 माँ  शेरावाली,  मेरी माँ दुर्गा रानी
 माँ  ज्योता वाली, मेरी माँ  मेहरा वाली

 मेरे बिगड़े काम बना दे, 
 माँ , आकर मुझे संभाल ले, 
 मेरी झोली खुशियों से भर दे। 

 माँ शेरावाली, मेरी  दुर्गा रानी, 
 माँ  अम्बे  रानी, मेरी माँ पहाड़ा वाली, 
 माँ लाटा वाली, मेरी माँ  वैष्णो वाली 
 माँ  ज्योता  वाली,  मेरी मां मेहरा वाली

 जय माता दी

रश्मि मानसिंघानी
 मस्कट, ओमान।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें