मंगलवार, 29 दिसंबर 2020

अनन्तराम चौबे अनन्त जी द्वारा खूबसूरत रचना#भारत में बढ़ती आत्मनिर्भरता#

 राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय बदलाव मंच साप्ताहिक काव्य प्रतियोगिता का आयोजन  18 से 23 दिसम्बर 2020
दिनांक  20/12/2020
विषय.. शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ती आत्मनिर्भरता
नाम.. अनन्तराम चौबे अनन्त जबलपुर म प्र
कविता ...

 शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ती आत्मनिर्भरता
शिक्षा से हमें ज्ञान मिलता है
जीवन भी सफल बनाता है ।
शिक्षा बिना ज्ञान अधूरा है
शिक्षा से भविष्य भी बनता है ।

मान करें सम्मान करें
शिक्षा में योगदान करें ।
आत्म निर्भर शिक्षा में बने
देश को भी आत्म निर्भर करें ।

शिक्षा का ज्ञान हासिल करके
विज्ञान का ज्ञान भी सीखना है ।
सारी दुनिया से भी आगे बढ़कर
आत्म निर्भर की उड़ान भरना है ।

शिक्षा के क्षेत्र में विकसित होकर
भारत का नाम रोशन करना है ।
तकनीकी शिक्षा हासिल करके
मंगल और चांद पर पहुंचना है ।

जो भी हासिल किया अभी तक
और भी उससे आगे बढ़ना है ।
विश्व पटल पर शिक्षा तकनीक से
भारत देश का नाम रोशन करना है।

आज के बच्चे कल का भविष्य है
सभी को पूर्ण शिक्षित करना है ।
भेदभाव शिक्षा में नही करना
साथ में चलकर आगे बढ़ना है ।

हर क्षेत्र देश आत्म निर्भर है
सारी दुनिया ये जानती है ।
आत्म निर्भर भारत हमारा है
आत्म निर्भरता हमारी शक्ति है ।

     अनन्तराम चौबे अनन्त
      जबलपुर म प्र/2734/
          20/12 /2020
         
      मौलिक व स्वरचित

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें