रविवार, 19 जुलाई 2020

मुझे बेटा नहीं बेटी है




मुझे बेटा नहीं बेटी है
ये सब सच्चाई बोलने में हमको
अब थोड़ा भी न सर्मानी है
बेटी मर्दों से अब है आगे
अब दुनिया को ये दिखानी है
ये बेगानी दुनिया में सबको
नारी की जीवनी सुनानी हैं। 

रंजन कुमार, मुजफ्फरपुर बिहार 




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें