बुधवार, 23 जून 2021

राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय बदलाव मंच द्वारा अखिल भारतीय संगीत -योग काव्य-संगीत का आयोजन

राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय बदलाव मंच द्वारा अखिल भारतीय संगीत -योग काव्य-संगीत का आयोजन

21 जून,2021,राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय बदलाव मंच उत्तरी भारत इकाई के तत्वाधान  में  योग दिवस एवं संगीत दिवस के अवसर पर गूगल मीट पर भव्य काव्य संगोष्ठी का आयोजन किया गया।संगोष्ठी की अध्यक्षता राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय बदलाव मंच के ग्लोबल प्रेसिडेंट दीपक क्रांति ने की।इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि तमिलनाडु परमाणु ऊर्जा विभाग के  जाने-माने वैज्ञानिक, साहित्यकार, शायर  गौतम आनंद , विशिष्ट अतिथि जाने-माने फिल्म एक्टर साहित्यकार समाजसेवी सुनील दत्त मिश्रा  एवं विशिष्ट अतिथि मातृशक्ति राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय बदलाव मंच की राष्ट्रीय अध्यक्षा रूपा व्यास, राष्ट्रीय कार्यकारिणी से डॉ.रेखा मंडलोई 'गंगा', प्रीति, गीता पांडे,भास्कर सिंह माणिक पूरे कार्यक्रम में उपस्थित रहे तथा सभी ने लगातार साहित्यकारों का उत्साह वर्धन किया एवं बेहतरीन से बेहतरीन रचनाओं का रसास्वादन किया एवं स्वयं भी अपनी प्रस्तुतियां दी। कार्यक्रम का संचालन उत्तरी भारत इकाई की महासचिव डॉ. अर्पिता गोयल  ने बहुत ही  सुमधुर ढंग से किया। इस संगोष्ठी के संयोजक एवं राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय बदलाव मंच उत्तरी भारत इकाई के अध्यक्ष युवा साहित्यकार शिक्षक ओम प्रकाश श्रीवास्तव कानपुर नगर एवं उपाध्यक्ष  वरिष्ठ साहित्यकार सुधीर कुमार श्रीवास्तव गोंडा उत्तर प्रदेश भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का प्रारंभ बदलाव मंच आई टी प्रभारी सुधांशु श्रीवास्तव की मधुर आवाज में माता सरस्वती की वंदना से हुआ.. तत्पश्चात मुख्य अतिथि गौतम आनंद ने अपने प्रभावशाली उद्बोधन द्वारा कार्यक्रम का शुभारंभ किया फिर कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि  सुनील दत्त मिश्रा  ने उद्बोधन के साथ ही बहुत ही सुंदर संगीतमय  काव्य पाठ से पटल को  महका दिया। मंच अध्यक्षा रूपा व्यास ने अपने उद्बोधन में योग की महत्ता एवं बदलाव मंच की कार्यशैली व लक्ष्यों पर चर्चा की।
कार्यक्रम अध्यक्ष दीपक क्रांति ने जीवन में योग वा संगीत की आवश्यकता पर प्रकाश डालते हुए शानदार प्रस्तुति दी, उन्होंने कहा कि योग, तन का और संगीत मन का पूरक है और संगीत व योग का सुखद संयोग तथा सभी कवि -लेखकों सहयोग अतुलनीय है.. बदलाव मंच हर शै को साहित्य से जोड़कर सभी क्षेत्र में क्रांति ला रहा है.. दीपक क्रांति ने किशोर कुमार के गीत 'अमानुष बना के छोड़ा ' गाकर कार्यक्रम को संगीतमय कर दिया.. कार्यक्रम में डॉ. विनय श्रीवास्तव की प्रस्तुति भी बहुत शानदार रही। इसके अतिरिक्त कार्यक्रम में निम्न साहित्यकारों की रचनाओं ने भी पटल को साहित्य के रस में सरोवर कर दिया जिनमें मिथिलेश कुमार सिंह वाराणसी उत्तर प्रदेश,रामबाबू शर्मा, राजस्थानी (राजस्थान),बबीता यादव उच्च प्राथमिक विद्यालय कुलीपुरा दनकोर गौतमबुद्ध नगर,मनीषा गर्ग परीक्षितगढ़ मेरठ ,प्रीती चौधरी  सिकंदराबाद , बुलंदशहर, सोनीखांन,बुलंदशहर,राजेश तिवारी 'मक्खन' झांसी,आसिया खातून, अलीगढ़,डॉ. विनय कुमार श्रीवास्तव प्रतापगढ़,विक्रांत राजपूत चंबली, ग्वालियर,श्वेता कनोजिया गौतमबुधनगर,कल्पना भदौरिया 'स्वप्निल',इं बृज उमराव कानपुर,प्रतिमा उमराव,फतेहपुर,उत्तर प्रदेश , दिनेश सिंहडी एस कुड़नी कानपुर,कवयित्री नैन्सी गुप्ता सफीपुर उन्नाव उ·प्र·,साधना मिश्रा विंध्य लखनऊ,गीता पांडेय,डॉ. अंजू गोयल, फिरोजाबाद आदि ने प्रमुख भूमिकाएं निभायीं । कार्यक्रम के समापन अवसर पर ग्लोबल प्रेसिडेंट  दीपक क्रांति  ने एवं उत्तरी भारत इकाई के अध्यक्ष  ओम प्रकाश श्रीवास्तव ओम  ने सभी उपस्थित गणमान्य अतिथियों एवं साहित्यकारों को अपनी उपस्थित से कार्यक्रम को शिखर पर पहुंचाने के लिए सभी को धन्यवाद दिया।
      बदलाव मंच ट्रस्ट अध्यक्ष रूपक क्रांति, झारखंड महिला अध्यक्ष सबीना नाग,रूपेश कुमार,सबीना नाग व राष्ट्रीय कार्यकारिणी के डॉ सत्यम भास्कर भ्रमरपुरिया , भास्कर सिंह माणिक कोंच, चंद्र प्रकाश गुप्त चंद्र, गीता पांडेय,राष्ट्रीय समीक्षाध्यक्ष नंदिता रवि चौहान  बदलाव मंच अभिभावक सुनील दत्त मिश्रा, महिला उपाध्यक्षा अर्चना फ़ौज़दार, शोभा किरण, सोशल मीडिया प्रभारी  जीतेंद्र विजयश्री जीत,प्रकाश कुमार मधुबनी,एल.एस.तोमर,मुमताज हसन,
सुधार सुनील एच. कलम,सतीश लाखोटिया,भूपसिंह भारती,बंसीधर शिवहरे,बाबूराम सिंह,रीमा ठाकुर परिहार,चन्द्र प्रकाश गुप्त 'चन्द्र' 
 आदि सभी पदाधिकारी पूरे कार्यक्रम में उपस्थित रहे व कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग किया।
    यह अभी जानकारी बदलाव मंच के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी शैलेन्द्र  पयासी ने दी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें